10 मिनट फोन से रहेंगे दूर तो एक बच्चे को मिल सकेगा पीने का साफ पानी

Author:दैनिक भास्कर
Source:दैनिक भास्कर, 05 मार्च 2014
दुनिया में 76 करोड़ 80 लाख लोग ऐसे हैं, जिन्हें पीने के लिए साफ पानी नहीं मिलता। उनकी मदद यूनिसेफ करता है। ब्यूटी प्रोडेक्ट की मशहूर कंपनी जॉर्जियो अरमानी इस वर्ष भी महाअभियान की स्पोंसर है। इसके लिए अमेरिकी स्मार्टफोन यूजर्स को अपना फोन लगातार 10 मिनट तक स्टैंड बाय रखना होगा। जितने भी यूजर्स ऐसा करेंगे, जॉर्जियों अरमानी प्रत्येक के एवज में यूनिसेफ को निश्चित राशि दान करेगी।

इस राशि से दुनिया के प्रत्येक जरूरतमंद बच्चे को एक दिन का साफ पानी यूनिसेफ प्रदान करेगा। इसके लिए स्मार्टफोन यूजर्स को ‘टैप डॉट यूनिसेफयूएसए डॉट ओआरजी’ के मोबाइल एप्लीकेशन पर जाना होता है। उस पेज पर जाते ही यूजर का समय शुरू हो जाता है. उसके बाद मोबाइल को उसी अवस्था में रखना होता है। अगर यूजर 10 मिनट पूरे होने के पहले ही अपना फोन हाथ में उठाकर फेसबुक, इंस्टाग्राम या अन्य कोई एप शुरू करता है, तो संकेत मिलता है कि अभी आपका समय पूरा नहीं हुआ है।

अरमानी के अलावा कुछ अन्य कंपनियां भी यूनिसेफ के अभियान का हिस्सा हैं। इनसे मिलने वाली राशि जरूरतमंद लोगों की मूलभूत सुविधाओं में खर्च की जाती है। जॉर्जियो अरमानी लगातार पांच साल से इस कार्य में सक्रिय है और बच्चों के लिए मदद जुटाने का कैम्पेन भी कर रही है।

इस साल भी कंपनी ने कहा कि वह कम से कम 3.15 करोड़ रुपए का दान जरूर करेगी। अमेरिका में इस वर्ष यह अभियान ज्यादा लोकप्रिय हो रहा है और लोग भी आगे बढ़कर इसमें हिस्सा ले रहे हैं। यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के अनुसार प्रतिदिन अनुमानित 1600 बच्चे बुनियादी आवश्यकताओं के अभाव में जीवित नहीं रह पाते। इनमें से 90 फीसदी की जान जाने का कारण शुद्ध पेयजल और सफाई व्यवस्था का अभाव रहता है।