बछड़ा बांध एक अच्छा जल स्रोत

Author:अंकित तिवारी

प्रयागराज जिला मुख्यालय से 45 किलोमीटर दूर मेजा तहसील के भैया चंदवासा गांव में स्थित है बछड़ा बांध एक अच्छा जल स्रोत है यह बांध 1972 में बनाया गया इस बांध से लगभग 20 गांव की सिंचाई होती है इसकी लंबाई चौड़ाई लगभग 5 किलोमीटर वर्ग मीटर में फैला है और गहराई लगभग 200 फीट हैं

इससे निकलने वाली नहर को  लगभग 20 किलोमीटर तक  बनाया गया है बांध से बाहर निकलने के 100 मीटर के बाद ही टूटी पड़ी है जिससे पानी का संकट  एवं अन्य आसपास के गांवों तक ही पहुंच पाता है सुकाट गांव के छोड़कर धरावल भसुंन्दरखुर्द भटौती कोना सहित विभिन्न गांव को पहुंचने वाला पानी रास्ते में बह जाता है शासन की मंशा थी कि बछड़ा बांध के निर्माण से मछली पालन जल संचय जल संधि  के अलावा स्थानीय किसानों को सिंचाई की सुविधा का लाभ मिल सकेगा। 

 लोगों ने बताया कि बछड़ा बांध में पानी की कमी ना हो पाए इसके लिए इस बांध तक पानी पहुंचाने की व्यवस्था की गई।बेलन नहर से पानी अक्सर छोड़ा जाता है बांध में पानी भरा होने से प्रति वर्ष विभाग को होजरी से लाखों की आमदनी होती है। वर्ष 2015 में सपा सरकार के शासन में पूर्व विधायक रामा पांडे की पहल पर बांध की मरम्मत व विस्तार के नाम पर सिंचाई विभाग को करोड़ों रुपए मिले थे। इस धन से 4 किलोमीटर तक नहर की लाइनिंग और बाद में ही हो रहे लीकेज की मरम्मत कराई गई थी सपा सरकार के बाद किसी अन्य प्रतिनिधि ने इस महत्वपूर्ण कार्य पर ध्यान नहीं दिया।  स्थानीय किसानों ने बताया कि यदि शासन बांध से निकलने वाली नहरकी  मरम्मत कराये  तो हजारों एकड़ भूमि का लाभ मिल सकता है भाखड़ा बांध पर्यटन की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण है यहां अक्सर शोध करने वाले छात्र की टीम आती है यहां अगल बगल के गांव से हमेशा गाय भैंस चराने के लिए लोग आते रहते हैं