बजट 2021-22:पानी और संबंधित क्षेत्रों की हाइलाइट्स

Author:स्वाति बंसल
Source: Hindi Water Portal

  • इस साल सरकार ने बजट में 2.87 लाख करोड़ का जल जीवन मिशन लांच किया।
  • इसका उद्देश्य सभी 4378 शहरी स्थानीय निकायों में जला पूर्ति करने के साथ घरेलू नल कनेक्शन की सुविधा के अलावा 500   शहरों में  वेस्ट मैनेजमेंट को स्थापित करना है। 
  • शहरी स्वच्छ भारत मिशन 2.0 को 2021 से 2026 तक 5 वर्षों की अवधि में कुल 141678 करोड़ रुपये के वित्तीय आवंटन के साथ लागू किया जाएगा।
  • मनरेगा को वित्तीय वर्ष 2021 के लिए 73000 करोड़ आवंटित किया गया है।
  • 2020 में 9500 करोड़ रुपये के मुकाबले 63000 करोड़ रुपये अधिक आवंटन हुआ है 
  • 2021 में मनरेगा ग्रामीण आजीविका सुनिश्चित करने में अहम भूमिका निभा सकता है 
  • गाँव में संपत्ति मालिकों को अधिकारों के रिकॉर्ड देने के लिए स्वामित्व योजना को सभी राज्यों को कवर करने के लिए बढ़ाया जायेगा
  • वित्त वर्ष 22 में कृषि ऋण के लक्ष्य को बढ़ाकर 16.5 लाख कर दिया गया।
  • ग्रामीण बुनियादी ढांचे के विकास के लिये बजट राशि 3000 हज़ार से बढ़ाकर  4000 कर दी गई  है।
  • 5000 करोड़ रुपये के कोष वाले सूक्ष्म सिंचाई कोष में 5000 करोड़ रुपये आवंटित किया गया है।
  • 22 खराब उत्पादों को शामिल करने के लिये ऑपरेशन ग्रीन योजना को बढ़ाया जाएगा। 
  • ई-एनएम के साथ 1000 और मंडियों को बनाने का लक्ष्य रखा जाएगा ।
  • कृषि इंफ्रास्ट्रेक्चर फंड को एपीएमसी के लिये उपलब्ध कराया जाएगा ताकि वह अपने इंफ्रास्ट्रक्चर ढाँचे को बढ़ा सके।
  • मछली पकड़ने के  5 प्रमुख बंदरगाह-  कोच्चि चेन्नई , विशाखापट्टनम पारा दीप और पेटुआघाट को आर्थिक गतिविधियों के केंद्र के रूप में विकसित किया जाएगा।
  • नदियों और जलमार्गों  के किनारे अंतर्देशीय   मछली पकड़ने वाले बंदरगाहों और मछली लैंडिंग क्षेत्रों को विकसित किया जायेगा।
  • तमिलनाडु में एक बहु उद्देश्यीय सीवीड पार्क की स्थापना की जाएगी।
  • एक राष्ट्र एक राशन कार्ड योजना के तहत 32 राज्यों और केंद्र प्रशसित राज्यों को मिलाकर 69 करोड़  प्रवासी कामगारों को लाभ पहुंचेगा ।
  • एक ऐसे पोर्टल का शुभारंभ करना जो निर्माण श्रमिकों के बारे में सटीक जानकारी एकत्रित कर उनके  स्वास्थ्य, आवास, कौशल, बीमा, ऋण और खाद्य योजनाओं की जानकारी रखेगा।
  • 4 लेबर कोड्स को लागू किया जायेगा।
  • विश्व स्तर पर पहली बार, श्रमिकों के लिये सामाजिक सुरक्षा के लाभ का विस्तार किया जाएगा।
  • न्यूनतम मजदूरी सभी श्रेणियों के श्रमिकों पर लागू होगी, और वे सभी कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा कवर किए जाएंगे
  • महिलाओं को सभी श्रेणियों मे काम करने की आजादी होगी और विशेष रूप से रात में काम करने वाली महिलाओं ko  सुरक्षा दी जायेगी
  • एकल पंजीकरण और लाइसेंसिक और ऑनलाइन रिटर्न से कर्मचारियों पर काम का अधिक बोझ नहीं रहेगा।
  • केंद्र प्रायोजित एक नई योजना पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना को 6 साल में करीब 64,180 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ शुरू किया जाएगा।
  • भारत के सौर ऊर्जा निगम को 1000 करोड़ रुपये और भारतीय नवीकरणीय ऊर्जा विकास एजेंसी को 1500 करोड़ रुपये की अतिरिक्त पूंजी निवेश का प्रावधान।
  • वायु प्रदूषण की बढ़ती समस्या से निपटने के लिए एक लाख से अधिक आबादी वाले 42 शहरी केंद्रों के लिए 2,217 करोड़ रुपये का आवंटन
  • हरित ऊर्जा स्रोतों से हाइड्रोजन उत्पादन के लिए 2021-22 में हाइड्रोजन ऊर्जा मिशन शुरू करने का प्रस्ताव।

Latest

मिलिए 12 हज़ार गायों को बचाने वाले गौरक्षक से

स्वस्थ गंगा: अविरल गंगा: निर्मल गंगा

पीएम मोदी का बचपन जहाँ गुजरा कभी वहां था सूखा आज बदल गई पूरी तस्वीर 

वायु प्रदूषण के सटीक आकलन और विश्लेषण के लिए नया मॉडल

गंगा का पानी प्लास्टिक और माइक्रोप्लास्टिक से प्रदूषित, अध्ययन में पता चला

शेरनी:पर्यावरण और वन्यजीव संरक्षण पर ध्यान आकर्षित करने का प्रयास

जलवायु परिवर्तन के संकट से कैसे लड़ रहे है पहाड़ के किसान

यूसर्क द्वारा “वाटर एजुकेशन लेक्चर सीरीज” के अंतर्गत “जल स्रोत प्रबंधन के सफल प्रयास पर ऑनलाइन कार्यक्रम का आयोजन

वर्ल्ड एक्वा कांग्रेस 15वाँ अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन

कोविड-19 के जोखिम को बढ़ा सकता है जंगल की आग से निकला धुआं: अध्ययन