दूषित पानी से गांवों में हो रही बीमारियां

Author:आईबीएन-7
Source:आईबीएन-7, 14 अक्टूबर 2012

वैसे तो पानी जिंदगी देती है, लेकिन उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले का पानी वहां के लोगों की जिंदगी को ही नहीं बल्कि उनके नस्लों को भी तबाह कर रहा है। सहारनपुर जिले में भनेड़ा खेमचंद गांव बीमार गांव के नाम से जाना जाता है। गांव की आबादी लगभग 3000 है, जिनमें से ज्यादातर लोग किसी न किसी बीमारी से परेशान हैं। 80 प्रतिशत लोग त्वचा के रोग से ग्रसित हैं। पेट की बीमारी, लिवर सिरोसिज जैसी बीमारयां हैं। हर साल 2-3 लोगों को कैंसर भी हो जाता है। यहां फैल रही बीमारियों की वजह पीने का पानी है। यहां पीने के पानी के लिए एक ही विकल्प है हैंडपंप और गांव के सभी हैंडपंप से पीला पानी निकलता है। इस पानी के अलावा यहां के लोगों के पास कोई और विकल्प नहीं है। भूमिगत पानी के प्रदूषित होने की बड़ी वजह इस इलाके में लगी फैक्ट्रियां हैं जो अपना जहरीला पानी और कचरा बिना ट्रीट किए छोड़ रही हैं। फैक्ट्रियों का ये जहरीला पानी रिस कर भूमिगत जल को प्रदूषित कर रहा है। कई बार शिकायतों के बावजूद प्रदूषण नियंत्रण विभाग के अधिकारी कोई कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।

Latest

IIT-कानपुर के शोधकर्ताओं ने पानी साफ करने वाला सबसे सस्ता उपकरण बनाया

नदियों को सदानीरा बनाने के लिए संकल्पित मध्यप्रदेश

तीन दिवसीय जल-विज्ञान प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ

चंद्रमा खींच रहा है पृथ्वी का पानी, वैज्ञानिक ने खोजा अनोखा चंद्र स्रोत

यदि 50 डिग्री सेल्सियस तापमान हो जाए तो हालात कैलिफोर्निया जैसे होंगे

मूलभूत सुविधा भी नहीं है गांव के स्कूलों में

घातक हो सकता है ऐसे पानी पीना

20 साल पुराना पानी पीते है अमित शाह जो है एकदम शुद्व ,जाने कैसे

चीनी शोधकर्ताओं ने मंगल में ढूंढ लिया पानी

गोवा के कृषि मंत्री ने बता दिया गृहमंत्री अमित शाह कितना महंगा पानी पीते है