गंगाजल में ई-कोलाई

Author:स्टार न्यूज
Source:स्टार न्यूज, 17 जून 2011


गंगा के पानी में खतरनाक ई-कोलाई बैक्टीरिया भी है। पानी में फेइकल कोलीफॉर्म होने का एक ही मतलब है कि इससे कई तरह के इन्फेक्शन हो सकते हैं। जैसे कानों का इन्फेक्शन, टाइफाइड, वायरल फीवर, गैस्ट्रोइंटाइटिस, हैजा, हेपिटाइटिस ए आदी। फेइकल कोलीफॉर्म की हालत पिछले साल के मुकाबले बिगड़ी हुई नजर आ रही है। इसका सीधा मतलब है कि सीवर के पानी को बिना ट्रीटमेंट के बहाए जाने का सिलसिला और बढ़ा है।