हवा के हर कण में भारतीयों को मिल रहा ज़हर

Author:हिमांशु भट्ट

फोटो - niehs

पूरी दुनिया वायु प्रदूषण के प्रभावों से जूझ रही है। इसके कारण आए दिन विभिन्न बीमारियों का जन्म हो रहा है। मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। मरीजों की संख्या का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वायु प्रदूषणजनित रोगों से हर साल विश्वभर में 45 लाख से अधिक लोगों की मौत हो जाती है, जिनमें से छह लाख से अधिक मौते केवल भारत में ही होती है। वायु प्रदूषण से निपटने के लिए विश्वभर में कई योजनाएं शुरू की गई है। हर देश अपने अपने स्तर पर पहल कर रहा है। भारत ने भी इससे निपटने के लिए पहल की है, लेकिन धरातल पर इसका कोई खासा असर दिखता नजर नहीं आ रहा है। जिस कारण भारत विश्व के सबसे प्रदूषित देशों में शामिल है, तो वहीं गाजियाबाद विश्व का सबसे प्रदूषित शहर है। वायु प्रदूषण देश में इस कदर बढ़ गया है कि बच्चों के स्वास्थ्य पर भी इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ रहा है। हजारों बच्चों की गर्भ में ही मौत हो रही है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार पीएम 2.5 का सालाना स्तर 10 माइक्रोग्राम घन मीटर रहना चाहिए, लेकिन गाजियाबाद में ये दस गुना ज्यादा, यानी 110.2 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर है। हांलाकि गाजियाबाद के वायु प्रदूषण में कमी आई है, क्योंकि वर्ष 2017 में एयर क्वालिटी इंडेक्स 144.6 और 2018 में 135.2 था। इसके बावजूद भी गाजियाबाद सहित देश के लोगों को हवा के हर कण में ज़हर ही मिल रहा है। आईक्यूएयर विजुअल दुनियाभर के 5000 शहरों में वायु प्रदूषण के आंकड़ों का विशलेषण किया था। जिसमें पीएम 2.5 के आंकड़ों को भी शामिल किया गया। इस यूएस एयर क्वालिटी इंडेक्स रिपोर्ट 2019 के अनुसार दुनिया 30 सबसे प्रदूषित शहरों में 20 भारत के हैं।  जिनमें गाजियाबाद पहले, राजधानी दिल्ली पांचवे, नोएडा छठे, गुरुग्राम सातवें, ग्रेटर नोएडा नौंवे, बंधवाड़ी दसवें, लखनऊ 11वें, बुलंदशहर 13वें, मुजफ्फरनगर 14वें, बागपत 15वें, जींद 17वें, फरीदाबाद 18वें, भिवाड़ी 20वें, पटना 22वें, पलवल 23वें, मुजफ्फरपुर 25वें, हिसार 26वें, कुटेल 28वें, जोधपुर 29वें और मुरादाबाद 30वें स्थान पर हैं।

रिपोर्ट में पाकिस्तान के गुजरांवाला को तीसरे, फैसलाबाद को चौथे और रावलपिंडी को 8वे स्थान पर रखा गया है, जबकि बांग्लादेश की राजधानी ढाका भी प्रदूशित देशों की सूची में शामिल है। शहरों से इतर देशों को प्रदूषिण की स्थिति के अनुसार रैंकिंग दी गई है। इसमें सबसे प्रदूषित देश होने के कारण बांग्लादेश पहले स्थान पर है, जबकि पाकिस्तान दूसरे, मंगोलिया तीसरे, अफगानिस्तान चौथे और भारत पांचवे नंबर पर है। प्रदूषण से सबसे बुरा हाल दक्षिण, दक्षिण पूर्व और मध्य एशिया का है। यहां कुछ ही शहर ऐसे हैं, जहां हवा की गुणवता तय मानकों के अनुरूप है। 

गौर करने वाली बात ये है कि वायु प्रदूषण की रिपोर्ट हर साल आती है। भारत हमेशा टाॅप पांच प्रदूषित शहरों और देशों में शामिल रहा है। वायु प्रदूषण के प्रकोप से निपटने के लिए मंत्रियों द्वारा बड़े बड़े वादे किए जाते हैं, लेकिन देश की हवा मानो बिगड़ती ही जा रही है। इससे सरकार कभी कभी थोड़ी चिंतित जरूरी दिखती है, लेकिन तब, जब वायु प्रदूषण का भयावय रूप दिल्ली में देखने को मिलता है। यानी साल में एक बार दीपावली के दौरान या पराली जलाने के वक्त। बाकी पूरे साल किसी को देश भर में वायु प्रदूषण दिखाई नहीं देता। ये देश का बहुत बड़ा दुर्भाग्य ही है। इसलिए सरकार के भरोसे न रहकर वायु प्रदूषण से जंग की जिम्मेदारी जनता को ही उठानी होगी और स्वस्थ व जीवित रहने के लिए जन आंदोलन के रूप में अपने लिए स्वच्छ हवा के हक की आवाज उठाने की जरूरत है, क्योंकि जनता के सहयोग के बिना बदलाव नामुमकिन है। हांलाकि सबसे पहले लोगों को अपनी जीवनशैली में बदलाव लाना होगा। 

प्रदूषित शहरों की सूची

शहरPM 2.5 (μg/m³) 2019PM 2.5 (μg/m³) 2018
गाजियाबाद, भारत110.2135.2
होतन, चीन110.1116
गुजरांवाला, पाकिस्तान105.3-
फैसलाबाद, पाकिस्तान104.6130.4
दिल्ली, भारत98.6113.5
नोएडा, भारत97.7123.6
गुड़गांव, भारत93.1135.8
राविंडी, पाकिस्तान92.2-
ग्रेटर नोएडा, भारत91.3-
बंधवारी, भारत90.5-
लखनऊ, भारत90.3115.7
लाहौर, पाकिस्तान89.5114.9
बुलंदशहर, भारत89.4-
मुजफ्फरनगर, भारत89.1-
बागपत, भारत88.6-
काशगर, चीन87.195.8
जिंद, भारत85.491.6
फरीदाबाद, भारत85129.1
कोरौत, भारत85-
भिवंडी83.4125.4
ढाका, बांग्लादेश83.397.1
पटना, भारत82.1-
पलवल, भारत82.1-
दक्षिण तांगेरन, इंडोनेशिया81.3-
मुजफ्फरपुर, भारत81.2110.3
हिसार, भारत81-
मुरीदके, पाकिस्तान80.6-
कुतैल, भारत80.4-
जोधपुर, भारत77.2113.6
मुरादाबाद, भारत76.5104.9

लेखक - हिमांशु भट्ट (8057170025)

 

TAGS

air pollution, air pollution india, most polluted city, polluted countries, IQair, air quality index, delhi air pollution, reason of air pollution, vayu pradushan kya hai, bharat mein vayu pradushan.