जल संरक्षण का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट गुलेरिया बांध से डरे ग्रामीण  

Author:अंकित तिवारी

ये है उत्तरप्रदेश के  इलाहाबाद जिले के अंतर्गत आने वाले पठारी क्षेत्र मेजा और कोरांव । जहाँ लगभग 55 साल पहले सूखा पड़ने से स्थितियां गंभीर हो गई थी। बढ़ते सूखे से इस क्षेत्र में जन जीवन अस्त व्यस्त ना हो जाये उससे बचने के लिए  सिंचाई विभाग और प्रशासनिक अफसरों की और से  इस इलाके में वर्षा जल के संचय का बड़ा निर्णय लिया गया ताकि भविष्य में ऐसी स्थिति से फिर  गुजरना ना पड़े। आगे  वीडियो में है ....