जल शोधन और जलापूर्ति प्रणाली का आकार

Author:admin
परिकल्पना: किसी गांव/शहर/महानगर की जनसंख्या जितनी होती है, वहां की पेय जलापूर्ति प्रणाली में तकनीक का इस्तेमाल उतना ही अधिक होता है। कारण: बड़े शहरों और महानगरों में सार्वजनिक स्वास्थ्य पर निवेश अधिक होता है। ऐसे में उम्मीद की जाती है वहां पेय जल शोधन और आपूर्ति व्यवस्था में कहीं बेहतर तकनीक का इस्तेमाल होगा।कार्यप्रणाली: तकनीक के इस्तेमाल के आधार पर पानी के विभिन्न स्रोतों का इस प्रकार क्रम बनाया जा सकता है। यह क्रम है तालाब, झील, झरना, नदी, खुला कुआं, बोर कुआं, पाइप जलापूर्ति आदि। 10 गांव/शहर/महानगर का चयन करके इनकी जलापूर्ति् व्यवस्था पर सूचना एकत्रित करें। अगला कदम: इन गांवों/शहरों/महानगरों की सफाई जैसी अन्य सार्वजनिक सुविधाओं के आधार पर तुलना करें।

Latest

भारत में 2030 तक 70 फीसदी कॉमर्शियल गाड़ियां होंगी इलेक्ट्रिक

राष्ट्रीय स्वाभिमान आंदोलन की कार्यकारिणी में पास हुआ प्रकृति केंद्रित विकास का प्रस्ताव

भारतीय नदियों का भाग्य संकट में

गंगा बेसिन में बाढ़ की घटनाओं में वृद्धि

"रिसेंट एडवांसेज इन वॉटर क्वॉलिटी एनालिसिस"पर ऑनलाइन आयोजन

स्वच्छता सर्वेक्षण में उत्तराखण्ड और इंदौर इस बार भी अव्वल कैसे

यूसर्क देहरादून ने चमन लाल महाविद्यालय में एक दिवसीय ऑनलाइन राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया

प्राकृतिक नाले को बचाने का अनोखा प्रयास

यमुना हमारे सीवेज से ही दिख रही है, नाले बंद कर देंगे तो वो नजर नहीं आएगी

29 लाख कृषकों को मिलेगा सरयू नहर परियोजना का लाभ