महन्त नरेंद्र गिरि को नोटिस भेजेगा मातृ सदन

Author:इंडिया वाटर पोर्टल (हिन्दी)
Source:इंडिया वाटर पोर्टल (हिन्दी)

स्वामी शिवानंदस्वामी शिवानंद अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महन्त नरेंद्र गिरि द्वारा स्वामी ज्ञानस्वरूप सानंद को अनशन के लिये उकसाने सम्बन्धी दिए गए बयान के विरूद्ध मातृ सदन उन्हें नोटिस भेजेगा। यह जानकारी 27 अक्टूबर, 2018 को मातृ सदन के परमाध्यक्ष स्वामी शिवानंद सरस्वती ने दी।

गौरतलब है कि शुक्रवार को एक प्रेसवार्ता कर महन्त नरेंद्र गिरि ने कहा था कि स्वामी ज्ञानस्वरूप सानंद को अनशन के लिये उकसाने, अनशन नहीं तोड़ने देने के लिये दबाव बनाने सम्बन्धी आई बातों की जाँच की जानी चाहिए। इसके साथ उन्होंने यह भी कहा था कि अनशन से गंगा का भविष्य नहीं सुधरने वाला है इसका हल केवल वार्ता से ही निकाला जा सकता है। इतना ही नहीं उन्होंने भवनों के निर्माण के लिये खनन को भी जरूरी बताया था।

स्वामी शिवानंद ने महन्त नरेंद्र गिरि की उस माँग का स्वागत किया है जिसमें उन्होंने टिहरी बाँध को गिराने की माँग की है। 26 अक्टूबर, 2018 को प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने सरकार से टिहरी बाँध को गिराने की माँग की थी। उनका कहना था कि गंगा की अविरलता और पवित्रता को बनाए रखने के लिये ऐसा किया जाना आवश्यक है।

इधर शनिवार को चौथे दिन भी मातृ सदन के दो सन्तों का अनशन जारी रहा। स्वामी सानंद की माँग को आगे बढ़ाते हुए बुधवार से ब्रह्मचारी आत्मबोधानन्द और स्वामी पुण्यानन्द ने अनशन की शुरुआत की थी।

Latest

जनमैत्री संगठन ने की हलद्वानी की रामगाड़ नदी अध्ययन यात्रा 

सीतापुर और हरदोई के 36 गांव मिलाकर हो रहा है ‘नैमिषारण्य तीर्थ विकास परिषद’ गठन  

कुकरेल नदी संरक्षण अभियान : नाले को फिर नदी बनाने की जिद

खारा पानी पीने को मजबूर ग्रामीण

कैसे प्रदूषण से किसी देश की अर्थव्यवस्था हो सकती है तबाह

भारत में क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस

वायु प्रदूषण कम करने के लिए बिहार बना रहा है नई कार्ययोजना

3.6 अरब लोगों पर पानी का संकट,भारत भी प्रभावित: विश्व मौसम विज्ञान संगठन

अब गंगा में प्रदूषण फैलाना पड़ेगा महंगा!

बीएमसी ने पानी कटौती की घोषणा की; प्रभावित क्षेत्रों की पूरी सूची देखें