नीर फाउंडेशन को मिला वाटर चैम्पियन अवार्ड

Author:संपादक

मेरठ के खाते में एक उपलब्धि उस समय जुड़ गई जब इंटरनेशनल वॉटर एशोसिएशन, नीदरलैण्ड और वर्ल्ड एन्वायरन्मेंट फेडरेशन, अमेरिका द्वारा वर्ल्ड वाटर डे के मौके पर मेरठ स्थित गैर-सरकारी संगठन नैशनल एन्वायरन्मेंटल एजुकेशन एण्ड रिसर्च फाउंडेशन अर्थात नीर फाउंडेशन को वर्ष 2009 के वॉटर चैम्पियन अवार्ड के लिए चुना गया। वर्ष 2009 के लिए विश्व के अलग-अलग देशों में पानी बचाने की अलख जगाने वाले चुनिंदा 12 उम्मीदवारों को वाटर चैम्पियन अवार्ड के लिए चुना गया है। इसमें विश्व के सभी 6 द्वीपों में से दो-दो उम्मीदवारों का चयन किया गया है। एशिया में भारत से नीर फाउंडेशन और दूसरे मलेशिया से एक संस्था को इसके लिए चुना गया।

यह पुरस्कार वर्ल्ड वाटर मानिटरिंग डे के मौके पर दिया जाएगा। इसी के साथ नीर फाउंडेशन की रिपोर्ट को विश्व की सर्वश्रेष्ठ रिपोर्ट चुना गया है। इसीलिए उसको वर्ल्ड वाटर मानिटरिंग डे द्वारा प्रथम पेज (http://www.worldwatermonitoringday.org)पर स्थान दिया गया है।

नीर फाउंडेशन के निदेशक रमन त्यागी इस उपलब्धि को पश्चिमी उत्तर प्रदेश के समाज का सहयोग व समर्थन मानते हैं। मैं पहले ही अपना सम्पूर्ण जीवन पहले ही गंगा-यमुना के दोआब के पानी व पर्यावरण को बचाने के कार्य के लिए समर्पित कर चुका हूं। इस पुरस्कार के मिलने से मेरा हौंसला और बढ़ा है तथा मैं और अधिक उर्जा के साथ इस कार्य को आगे बढ़ाने का प्रयास करूंगा।

गौरतलब है कि नीर फाउंडेशन को जल संरक्षण के क्षेत्र में कार्य करते हुए अभी एक वर्ष ही हुआ है। इस बीते एक वर्ष में संस्था द्वारा राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी एक अलग पहचान बनाई है। नीर फाउंडेशन का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है क्योंकि इसका कार्यक्षेत्र ऐसी भूमि है जोकि सम्पन्न मानी जाती है।

रमन ने जानकारी दी कि वर्ल्ड एन्वायरन्मेंट फेडरेशन और इंटरनेशनल वॉटर एशोसिएशन, नीदरलैण्ड के सहयोग से विश्वभर में चलाए जा रहे पानी जांचों अभियान में भारत से भी नीर फाउंडेशन भी इसका हिस्सा बना था। इस अभियान के तहत प्रत्येक वर्ष 18 सितम्बर को वर्ल्ड वाटर मानिटिरिंग डे मनाया जाता है। इसके तहत प्रत्येक वर्ष दुनियाभर के देशों से गैर-सरकारी संगठनों व समूहों का चयन करके उनको वाटर टैस्ट करने की किट उपलब्ध कराई जाती हैं। इन किटों के माध्यम से सामाजिक संगठन अथवा समूह द्वारा अपने देश के प्राकृतिक अथवा मानव निर्मित जल स्रोतों के पानी का परीक्षण किया जाता है। उपलब्ध कराई गई किटों के माध्यम से सम्पूर्ण परीक्षण 31 दिसम्बर से पहले पूर्ण करके वर्ल्ड वाटर मानिटिरंग डे की टीम को सौंप दिए जाते हैं। वर्ष के कार्य में सभी देशों से जब सभी रिपोर्ट एकत्र हो जाती हैं तो इसको एक रिपोर्ट में बदल दिया जाता है तथा ज्योग्राफिकल इंफोरमेशन सिस्टम के द्वारा सम्पूर्ण रिपार्ट के आंकड़ों को दुनिया के नक्शे पर डाल दिया जाता है। जिससे के दुनियाभर के लोग इंटरनेट के माध्यम से इस रिपोर्ट को पढ़ सकते हैं।

वर्ष 2009 के लिए वर्ल्ड वाटर मानिटिरिंग डे की अधिकारी फ्रांसिस ल्यूक्राफट द्वारा भारत से सामाजिक संगठन नीर फाउंडेशन को चुना गया था। संस्था को इस कार्य हेतु आठ किट मई माह में उपलब्ध कराई गईं थीं। संस्था द्वारा इन किटों के माध्यम से पश्चिमी उत्तर प्रदेश की प्रमुख नदियों, तालाबों, झीलों, कुओं, नहरों व हैण्डपम्पों के पानी के परीक्षण किए गए। इस कार्यक्रम को स्कूली बच्चों की शिक्षा से जोडते हुए संचालित किया गया था जिसमें कि मेरठ, मुजफरनगर, गाजियाबाद, दिल्ली, हापुड, परीक्षितगढ़ व बुढाना के आठ स्कूलों के करीब 700 बच्चों ने भाग लिया था। इस दौरान आठ किटों के माध्यम से आठ स्कूलों के बच्चों व कुछ अन्य कार्यकर्ताओं द्वारा विभिन्न जल स्रोतों के 400 नमूनों के परीक्षण किए गए।

इन नमूनों के परीक्षण में आशा के अनुरूप ही चौंकाने वाले तथ्य निकलकर सामने आए। इन परीक्षणों में मुख्य रूप से पानी का तापमान, उसकी टरबिडिटी, पीएच मूल्य व डिसाल्वड आक्सीजन के परीक्षण किए गए, साथ ही परीक्षण करते समय का तापमान, मौसम की जानकारी, लांगीटयूड व लैटीटयूड, परीक्षण का समय, स्थान व दिनांक सहित वर्ल्ड वाटर मानिटिरिंग डे द्वारा उपलब्ध कराए गए परफोरमें अनुसार जानकारियां जुटाई गईं थीं। इस कार्य में श्री दयालेश्वर पब्लिक स्कूल, मेरठ, के वी पब्लिक स्कूल, परीक्षितगढ़, महाकवि गंगादास सरस्वती शिशु मन्दिर, हापुड़, डी ए वी पब्लिक स्कूल, बुढ़ाना, आत्मासेवानन्द कन्या विधालय, करनावल, बाल भवन पब्लिक स्कूल, दिल्ली, बाल भारती पब्लिक स्कूल, दिल्ली तथा रेयान इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल, दिल्ली आठ स्कूलों के बच्चों द्वारा भी कार्य किया गया था। इसके अतिरिक्त जन कल्याण संस्था, मेरठ व नैचर फाउंडेशन, दिल्ली, जैसे गैर-सरकारी संगठन भी शामिल हुए।

नीर फाउंडेशन की इस उपलब्धि पर रमन त्यागी को पूर्व केंद्रीय मंत्री सोमपाल शास्त्री, मेरठ के सांसद राजेंद्र अग्रवाल, बिजनौर के सांसद संजय चौहान, बसपा के राज्य सभा सांसद बाबू मुनकाद अली, हस्तिनापुर विधायक योगेश वर्मा सहित देश के कई ख्यातिनाम विद्वानों ने बधाई दी है।

नीर फाउन्डेशन से सम्पर्क कर सकते हैं..(रमन त्यागी), निदेशक,
Ist Floor, Samrat Shopping Mall, Garh Road, Meerut, (UP)
0121-4030595, 0941167695109411676951