पानी की छोटी-छोटी कहानियां

Author:अनिल कुमार

यूं तो मौसम कई होते हैं। परंतु बच्चों से पूछा जाए कि सबसे अच्छा मौसम कौन सा है, तो अधिकांश का कहना होगा-रेनी सीजन, यानी बारिश। चलिए इस बार आपको बरसात से जुड़ी कुछ खास जानकारियां देते हैं।

 

 

वर्षा जल का संरक्षण


आम तौर पर लोग बरसाती पानी का महत्त्व नहीं समझते। इसीलिए भगवान की इस देन की सब उपेक्षा करते हैं और सारा पानी जमीन में या नदियों में चला जाता है। फिर नदियों का पानी सागर में मिलकर बरबाद हो जाता है। इसीलिए अधिकांश जगहों पर पानी की किल्लत से बचने के लिए रेन वाटर हार्वेस्टिंग को प्रोत्साहित किया जा रहा है। इस तकनीक से वर्षा जल को एक स्टोरेज सिस्टम के जरिए भविष्य में उपयोग के लिए बचाकर रख लिया जाता है। पानी बर्बाद होने से बचाने के लिए अब तो नई इमारतों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को लगाना अनिवार्य कर दिया गया है। राजस्थान के कई इलाकों में सदियों से रेन वाटर हार्वेस्टिंग की परंपरा है। जैसलमेर का करीब एक मील चौड़े आगौर वाले तालाब घड़सीसर का आगौर 120 वर्ग मील क्षेत्र में फैला हुआ है। इसे जैसलमेर के राजा रावल घड़सी ने सन 1335 में बनवाया था। यह रेन वाटर हार्वेस्टिंग का सर्वोत्तम उदाहरण है। आज भी यह गर्मियों में जरूरतमंदों को भरपूर पानी देता है।

पूरा पढ़ने के लिए क्लिक करें और आप डाउनलोड कर सकते हैं