राजभवन में जल संरक्षण के उपायों पर हुई चर्चा

Author:संपादक

जयपुर। जल के संग्रहण, संरक्षण और कुशलतम उपयोग के लिए लोगों द्वारा प्रयोग में लिए जाने वाले उपायों पर राजभवन में बुधवार, चार नवम्बर को चर्चा हुई। यह कार्यशाला राज्यपाल श्री एस.के.सिंह की परिकल्पना एवं पहल पर आयोजित हुई थी। राज्य की प्रथम महिला श्रीमती मंजू सिंह, पूर्व विधायक श्री खुशवीर सिंह, राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय बीकानेर के कुलपति डॉ. प्रताप नारायण, मैग्सेसे अवार्डी श्री राजेन्द्र सिंह, जल संसाधन के प्रमुख सचिव श्री राम लुभाया, केन्द्रीय भू-जल बोर्ड के क्षेत्रीय निदेशक श्री आर.पी. माथुर, जल संरक्षण क्षेत्र में सक्रिय श्री राकेश अजमेरा, समाज सेवी श्री लक्ष्मण सिंह, सेवानिवृत्त एयर कोमोडोर श्री एन.के.माथुर और प्रो. पृथ्वी सिंह कांधल ने भी विचार व्यक्त किया। राज्यपाल की अतिरिक्त मुख्य सचिव श्रीमती मीनाक्षी हूजा ने बताया कि कार्यशाला में आये उपयोगी सुझावों का संकलन किया गया है।

Latest

बीएमसी ने पानी कटौती की घोषणा की; प्रभावित क्षेत्रों की पूरी सूची देखें

देहरादून और हरिद्वार में पानी की सर्वाधिक आवश्यकता:नितेश कुमार झा

भारतीय को मिला संयुक्त राष्ट्र का सर्वोच्च पर्यावरण सम्मान

जल दायिनी के कंठ सूखे कैसे मिले बांधों को पानी

मुंबई की दूसरी सबसे बड़ी झील पर बीएमसी ने बनाया मास्टर प्लान

जल संरक्षण को लेकर वर्कशॉप का आयोजन

देश की जलवायु की गुणवत्ता को सुधारने में हिमालय का विशेष महत्व

प्रतापगढ़ की ‘चमरोरा नदी’ बनी श्रीराम राज नदी

मैंग्रोव वन जलवायु परिवर्तन के परिणामों से निपटने में सबसे अच्छा विकल्प

जिस गांव में एसडीएम से लेकर कमिश्नर तक का है घर वहाँ पानी ने पैदा कर दी सबसे बड़ी समस्या