रेतीली जमीन से फूट रही है जलधाराएं -2

Author:आज तक
Source:आज तक, 13 दिसम्बर 2010


सरस्वती के संबंध में ये जो धारणाएं व्यक्त की गई हैं, इनकी जांच ऋग्वेद और अन्य प्राचीन ग्रंथों के पाठ से की जानी आवश्यक है। पहले यह चर्चा की जा चुकी है कि सरस्वती न हेलमंड हो सकती है न सिंधु क्योंकि यह ग्रिफिथ के गलत अनुवाद और एक गलत अनुमान के आधार पर आश्रित है।