सातवीं इंडिया इण्टरनेशनल वाटर समिट Water for all (सबके लिये पानी)

Author:इंडिया वाटर पोर्टल (हिन्दी)

तिथि : 22 अगस्त, 2017
समय : सायं 03 बजे
स्थान : इंडिया हैबीटाट सेन्टर, नई दिल्ली

.“पानी की एक बूँद भी अगर बेकार होती है तो हमें उसके दर्द का एहसास होना चाहिए, आइये हम अपने आप से वादा करें कि इस जून, जुलाई, अगस्त और सितम्बर के महीने में हम पानी की एक बूँद भी बेकार नहीं जाने देंगे… यही हमारी प्राथमिकता होनी चाहिए, ताकि इस साल जब हम दिवाली मनाएँ तो हमें यह सोचकर आनन्द की अनुभूति होनी चाहिए कि हमने कितना पानी बचाया है।” - भारत के प्रधानमंत्री आदरणीय श्री नरेंद्र मोदी जी की मन की बात से लिया गया कथन।

आजादी के बाद से ही भारत ने जलस्रोतों में काफी विकास किया है और देश की जनता की पानी की विभिन्न माँगों को एक हद तक सफलतापूर्वक पूरा भी किया है। फिर भी समय के साथ-साथ बढ़ते हुए शहरीकरण जनसंख्या और औद्योगिक विकास के चलते कहीं-न-कहीं इन जलस्रोतों पर दबाव पड़ा है और आज हम पानी की कमी महसूस कर रहे हैं।

इस सबके चलते यह निहायत जरूरी हो गया है कि सभी हितधारकों को एक साझा मंच पर लाया जाए और टिकाऊ जल प्रबन्धन के समाधानों को सबसे साझा किया जाये ताकि देश में जल सुरक्षा को बढ़ाया जा सके। इसी सन्दर्भ में इंडियन चैम्बर ऑफ कॉमर्स इंडिया इंटरनेशनल वाटर समिट का आयोजन कर रहा है।

जीने के लिये जो पानी आधार है वही न केवल मात्रा में बल्कि गुणवत्ता में भी कम हो रहा है। जल प्रदूषण इतना अधिक हो गया है कि देश में जल सुरक्षा के लिये मानवीय आदतों में व्यावहारिक बदलाव लाने होंगे ताकि वो पानी को उचित रूप से इस्तेमाल करें और एक-एक बूँद को बेकार न जानें दें। इसी कड़ी में खेती और औद्योगिक क्षेत्रों में पानी के उचित इस्तेमाल के लिये कुछ ढाँचागत और क्रियागत बदलाव भी लाने होंगे। दुनियाभर में वैज्ञानिक भी जल संरक्षण के नये तरीकों पर काम कर रहे हैं। इसीलिये यह उचित अवसर है कि हम पानी के पुनर्प्रयोग और पुनर्चक्रण के विभिन्न उपायों को अपनाएँ और जल सुरक्षा में अपना योगदान दें। राष्ट्रीय महत्त्व के इन्हीं सब मुद्दों को लेकर इंडिया चैम्बर ऑफ कॉमर्स 22 अगस्त, 2017 को नई दिल्ली में ‘वाटर फॉर ऑल’ यानी सबके लिये पानी मुद्दे पर इंडिया इंटरनेशनल वाटर समिट का आयोजन कर रहा है।

जल संसाधन राज्य मंत्री श्री विजय गोयल कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे। इस अवसर पर दक्षिणी दिल्ली की मेयर श्रीमती कमलजीत शेरावत और पूर्वी दिल्ली की मेयर श्रीमती नीमाभगत भी मौजूद रहेंगी।

7th India International water summitकार्यक्रम में सहभागिता के लिये कृपया आयोजकों से सम्पर्क करें। अधिक जानकारी के लिये संलग्न पीडीएफ देखें।

कार्यक्रम में भागीदारी निःशुल्क है।

Latest

गंगा का पानी प्लास्टिक और माइक्रोप्लास्टिक से प्रदूषित, अध्ययन में पता चला

शेरनी:पर्यावरण और वन्यजीव संरक्षण पर ध्यान आकर्षित करने का प्रयास

जलवायु परिवर्तन के संकट से कैसे लड़ रहे है पहाड़ के किसान

यूसर्क द्वारा “वाटर एजुकेशन लेक्चर सीरीज” के अंतर्गत “जल स्रोत प्रबंधन के सफल प्रयास पर ऑनलाइन कार्यक्रम का आयोजन

वर्ल्ड एक्वा कांग्रेस 15वाँ अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन

कोविड-19 के जोखिम को बढ़ा सकता है जंगल की आग से निकला धुआं: अध्ययन 

गौरैया को मिल गया नया आशियाना

गंगा की अविरलता और निर्मलता को स्थापित करने के लिये वर्चुअल मीटिंग का आयोजन 

चरखा ने "संजॉय घोष मीडिया अवार्ड्स 2020" सम्मान समारोह का किया आयोजन

पर्यावरण संरक्षण, खुशहाली और समृद्धि का प्रतीक है हरेला