शहर को बनाया जायेगा पॉलिथीन मुक्त

Author:नवोदय टाइम्स
Source:नवोदय टाइम्स, 10 जनवरी, 2018

नोएडा : शहर को पॉलिथीन मुक्त बनाने के लिये प्राधिकरण ने कमर कस ली है। इसके लिये साप्ताहिक बाजारों में जाँच अभियान चलाया जायेगा। अभियान को सफल बनाने के लिये 10 नोडल अधिकारी बनाये गये हैं।

प्लास्टिक कचराप्लास्टिक कचराइनके ऊपर दो सुपर नोडल अधिकारी बनाये गये हैं। वहीं परियोजना अभियंता आरएस यादव को समन्वयक अधिकारी बनाया गया है। 15 जनवरी से अभियान की शुरुआत की जायेगी। इसकी जानकारी सिटी मजिस्ट्रेट व प्रदूषण विभाग को दी गई है।

वहीं, पॉलिथीन का प्रयोग करने व गन्दगी फैलाने पर पाँच हजार का जुर्माना लगाया जाएगा। प्रतिदिन की रिपोर्ट अधिकारियों को प्राधिकरण को देनी होगी।

बताते चलें कि शहर में साप्ताहिक बाजारों में दुकानदार बड़े पैमाने पर पॉलिथीन का प्रयोग कर रहे हैं। साथ ही बाजार समाप्त होने के बाद वहाँ गन्दगी का आलम रहता है। इसके निस्तारण के लिये प्राधिकरण विशेष अभियान चलाने जा रहा है। अभियान के तहत साप्ताहिक बाजारों में पॉलिथीन के प्रयोग को बन्द करने के अलावा जिन स्थानों पर पॉलिथीन बनाने या बेचने का काम होता है वह मानकों के अनुसार हो। अभियान के तहत पहला सुपर नोडल अधिकारी एके जैन को बनाया गया है।

इनका कार्य वर्क सर्किल एक से वर्क सर्किल पाँच तक का पूर्ण ब्यौरा प्रतिदिन के हिसाब से तैयार करना होगा साथ ही निगरानी करना भी।

वहीं, दूसरा सुपर नोडल अधिकारी एमसी मित्तल को बनाया गया है। यह वर्क सर्किल छह से वर्क सर्किल 10 तक के क्षेत्र में लगने वाले साप्ताहिक बाजारों व दुकानों का निरीक्षण करेंगे। इनका मुख्य ध्यान गन्दगी पर भी होगा।

बताते चलें नोएडा स्वच्छ सर्वेक्षण कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहा है। ऐसे में गन्दगी करते पाये जाने पर पाँच हजार रुपये का जुर्माना लगाया जायेगा।

पॉलिथीन व गन्दगी को लेकर प्रतिदिन के हिसाब से लगाये गये जुर्माने की जानकारी प्राधिकरण आला अधिकारी को दी जायेगी। अभियान से सम्बन्धित पूरी जानकारी सिटी मजिस्ट्रेट व प्रदूषण विभाग को दी गई है। वह भी इसका अभिन्न हिस्सा होंगे।

Latest

भारत में 2030 तक 70 फीसदी कॉमर्शियल गाड़ियां होंगी इलेक्ट्रिक

राष्ट्रीय स्वाभिमान आंदोलन की कार्यकारिणी में पास हुआ प्रकृति केंद्रित विकास का प्रस्ताव

भारतीय नदियों का भाग्य संकट में

गंगा बेसिन में बाढ़ की घटनाओं में वृद्धि

"रिसेंट एडवांसेज इन वॉटर क्वॉलिटी एनालिसिस"पर ऑनलाइन आयोजन

स्वच्छता सर्वेक्षण में उत्तराखण्ड और इंदौर इस बार भी अव्वल कैसे

यूसर्क देहरादून ने चमन लाल महाविद्यालय में एक दिवसीय ऑनलाइन राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन किया

प्राकृतिक नाले को बचाने का अनोखा प्रयास

यमुना हमारे सीवेज से ही दिख रही है, नाले बंद कर देंगे तो वो नजर नहीं आएगी

29 लाख कृषकों को मिलेगा सरयू नहर परियोजना का लाभ