शहरीकरण ने बर्बाद किया जलस्रोत

Author:राज्यसभा टीवी
Source:राज्यसभा टीवी, 03 सितंबर 2013

हाल ही में सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरमेंट नामक एनजीओं की एक भारीभरकम रिपोर्ट आई। इस रिपोर्ट में कुछ ऐसे तथ्यों को उजागर किया गया है जो किसी भी भारतीय शहर के वजूद के लिए बेहद जरूरी है। ये रिपोर्ट हमें बताती है कि किस तरह से भारतीय शहरों ने अपने पानी के स्रोतों को बर्बाद कर दिया है।शहर अब बहुत दूर से पानी लाने की कोशिश में जुटे गए हैं जो एक बेहद मंहगा सौदा है। शहरों में पानी निकासी की व्यवस्था दशकों से सवालों के घेरे में रही है। निकास व्यवस्था की क्या दिक़्क़तें हैं और इनको दुरुस्त करने के लिए और क्या किए जाने की ज़रूरत है, इन्हीं सवालों पर आधारित यह एपिसोड।

इस फिल्म को यहां भी देखा जा सकता है।

Latest

बीएमसी ने पानी कटौती की घोषणा की; प्रभावित क्षेत्रों की पूरी सूची देखें

देहरादून और हरिद्वार में पानी की सर्वाधिक आवश्यकता:नितेश कुमार झा

भारतीय को मिला संयुक्त राष्ट्र का सर्वोच्च पर्यावरण सम्मान

जल दायिनी के कंठ सूखे कैसे मिले बांधों को पानी

मुंबई की दूसरी सबसे बड़ी झील पर बीएमसी ने बनाया मास्टर प्लान

जल संरक्षण को लेकर वर्कशॉप का आयोजन

देश की जलवायु की गुणवत्ता को सुधारने में हिमालय का विशेष महत्व

प्रतापगढ़ की ‘चमरोरा नदी’ बनी श्रीराम राज नदी

मैंग्रोव वन जलवायु परिवर्तन के परिणामों से निपटने में सबसे अच्छा विकल्प

जिस गांव में एसडीएम से लेकर कमिश्नर तक का है घर वहाँ पानी ने पैदा कर दी सबसे बड़ी समस्या