सुरक्षित पेयजल हमारी प्राथमिक आवश्यकता

Author:यू-ट्यूब
Source:यू-ट्यूब

जल एक आम रासायनिक पदार्थ है, जो कि जीवन के सभी ज्ञात रूपों के अस्तित्व के लिए आवश्यक है। ज्यादातर, जल शब्द का उपयोग केवल इसकी तरल अवस्था या रूप के लिए ही किया जाता है, लेकिन इस पदार्थ की एक ठोस अवस्था, बर्फ और एक गैसीय अवस्था जल वाष्प या भाप भी है। जीवन अमृत जल, प्रत्येक वस्तु एवं प्रत्येक व्यक्ति के अस्तित्व के लिए अपरिहार्य फिर भी अधिकांश नगर पेयजल की कमी से जुझते हुए एवं नागरिक समिति जलप्रदाय की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इन्हीं जल संकट के बीच कर्नाटक के नल 24 घंटे शुद्ध पेयजल दे रहे हैं। सुरक्षित पेयजल, आज की प्राथमिक आवश्यकता है। कर्नाटक के चयनित शहरों में यह सिद्ध हो गया है कि गरीब परिवारों सहित समस्त आदिवासियों को सुरक्षित पेयजल मिल रहा है। कर्नाटक में सुरक्षित पेयजल हेतु कर्नाटक नगरीय जलप्रदाय सुधार परियोजना लागू किया गया है।

Latest

जनमैत्री संगठन ने की हलद्वानी की रामगाड़ नदी अध्ययन यात्रा 

सीतापुर और हरदोई के 36 गांव मिलाकर हो रहा है ‘नैमिषारण्य तीर्थ विकास परिषद’ गठन  

कुकरेल नदी संरक्षण अभियान : नाले को फिर नदी बनाने की जिद

खारा पानी पीने को मजबूर ग्रामीण

कैसे प्रदूषण से किसी देश की अर्थव्यवस्था हो सकती है तबाह

भारत में क्यों मनाया जाता है राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस

वायु प्रदूषण कम करने के लिए बिहार बना रहा है नई कार्ययोजना

3.6 अरब लोगों पर पानी का संकट,भारत भी प्रभावित: विश्व मौसम विज्ञान संगठन

अब गंगा में प्रदूषण फैलाना पड़ेगा महंगा!

बीएमसी ने पानी कटौती की घोषणा की; प्रभावित क्षेत्रों की पूरी सूची देखें