वाटर ट्रेन

Author:भास्कर न्यूज
Source:भास्कर न्यूज/ May 01, 2009
जोधपुर. पेयजल संकट से जूझ रहे पाली जिले के लिए शुक्रवार से वाटर ट्रेन शुरू हो रही है। 65 वैगन की वाटर ट्रेन प्रतिदिन दो फेरे करेगी। इस से ट्रेन से हर रोज 27 लाख लीटर पानी पाली पहुंचेगा।

पीएचईडी के अधिकारियों के अनुसार पाली के लिए रेल से पानी पहुंचाने के लिए मई से जुलाई तक तीन माह की योजना बनाई गई है। 12.60 करोड़ की इस योजना में रेलवे के साथ हुए एग्रीमेट में लगभग 12 करोड़ रुपए का भुगतान रेलवे को किया जाएगा।

वाटर ट्रेन के एक-एक फेरे में प्रतिदिन 13 लाख 500 लीटर पानी ले जाया जाएगा। पाली में जल की जरुरत को देखते हुए पीएचईडी ने प्रतिदिन चार फेरे के लिए प्रस्ताव तैयार किया था लेकिन रेलवे की ओर से वैगन की उपलब्धता को देखते हुए प्रतिदिन दो फेरे ही संभव हो पाएंगे। विभागीय अधिकारियों के अनुसार यहां भगत की कोठी रेलवे स्टेशन पर वाटर ट्रेन से पानी भेजने की तैयारियां पिछले एक पखवाड़े से की जा रही थीं।

साभार - भास्कर न्यूज

Latest

गुजरात के विश्वविद्यालय ने वर्षा जल को सरंक्षित करने का नायाब तरीका ढूंढा 

‘अपशिष्ट जल से ऊर्जा बनाने में अधिक सक्षम है पौधा-आधारित माइक्रोबियल फ्यूल सेल’: अध्ययन

15वें वित्त आयोग द्वारा ग्रामीण स्थानीय निकायों को जल और स्वच्छता के लिए सशर्त अनुदान

गंगा किनारे लोगों के घर जब डूबने लगे

ग्रामीण स्थानीय निकायों को 15वें वित्त आयोग का अनुदान और ग्रामीण भारत में जल एवं स्वच्छता क्षेत्र पर इसका प्रभाव

जल संसाधन के प्रमुख स्त्रोत क्या है

बाढ़ की तबाही के बीच स्त्रियों की समस्याएं

अनदेखी का शिकार: शुद्ध जल संकट का स्थायी निदान

महाराष्ट्र एक्वीफर मैपिंग द्वारा जलस्रोत स्थिरता सुनिश्चित करना 

बिहार में जलवायु संकट से बढ़े हीट वेव से निपटने का बना एक्शन प्लान